Tuesday, May 9, 2017

Natural Sugar Free Plants Stevia

https://www.youtube.com/watch?v=j_ngRb3vBKA
जिसको भी शुगर हो और जो मीठा खाना चाहता है लेकिन यह चाहता है कि मीठा तो खाए और शुगर का लेवल ना बड़े तो उसको इस पौधे के पत्ते जरूर खाने चाहिए और चाय बनाने के लिए भी इसका उपयोग करना चाहिए इसकी खासियत यह है कि यह खाने में तो बहुत मीठा है परंतु इसके खाने से शुगर नहीं बढ़ती इस में शुगर की मात्रा शून्य प्रतिशत है इस पौधे को किसी भी प्रकार के खाने को बनाने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है जिसको कि आप चाहते हो कि जो मीठा हो इसको खाने से आपको ऐसा लगेगा कि जैसे आप बिलकुल मीठा खा रहे हैं परंतु आपकी शुगर में जरा सी भी बढ़ोतरी नहीं होगी तो आप इसको मीठे के विकल्प के तौर पर इस्तेमाल कर सकते हैं मार्केट में बहुत सारे शुगर फ्री विकल्प मिलते हैं परंतु उनमें केमिकल होते हैं जो सेहत के लिए हानिकारक होते हैं आप चाहें तो इस पौधे को अपने घर पर लगा सकते हैं और रोज एक या कुछ पत्ते इसके खा सकते हैं यह शुगर तो कंट्रोल करता ही करता है परंतु यह ब्लड प्रेशर को भी कंट्रोल करता है और यह एंटी ऑक्सीडेंट और एंटी बैक्टीरियल है और इसको खाने से शरीर में ताकत भी आती है और कई प्रकार के इंफेक्शन भी यह ठीक कर देता है और शुगर के कारण जो नुकसान आपके शरीर को हुआ है यह उसको भी ठीक कर देता है इसीलिए अब शुगर के मरीज जरूरी नहीं कि मीठे से दूर रहें वह इस मीठे को खा सकते हैं जिसका टेस्ट मीठे की तरह है और मीठा नहीं है तो इसके लिए आप इस वीडियो को देख सकते हैं इस वीडियो को खूब शेयर करें और उन लोगों तक पोहचाएँ जिन को को मीठा खाने की जरूरत है ।

Thursday, March 28, 2013

पथरी का देसी इलाज




क्योंकि पथरी होने का मुख्य कारण आपके शरीर मे अधिक मात्रा मे कैलशियम का होना है | मतलब जिनके शरीर मे पथरी हुई है उनके शरीर मे जरुरत से अधिक मात्रा मे कैलशियम है लेकिन वो शरीर मे पच नहीं रहा है वो अलग बात हे|

आयुर्वेदिक इलाज !
______________
पखानबेद (पत्थरचट्टा) नाम का एक पौधा होता है ! उसे पथरचट भी कुछ लोग बोलते है ! उसके पत्तों को पानी मे उबाल कर काढ़ा बना ले ! मात्र 7 से 15 दिन मे पूरी पथरी खत्म !! और कई बार तो इससे भी जल्दी खत्म हो जाती !!!


होमियोपेथी इलाज !
______________

अब होमियोपेथी मे एक दवा है ! वो आपको किसी भी होमियोपेथी के दुकान पर मिलेगी उसका नाम हे BERBERIS VULGARIS ये दवा के आगे लिखना है MOTHER TINCHER ! ये उसकी पोटेंसी हे|
वो दुकान वाला समझ जायेगा| यह दवा होमियोपेथी की दुकान से ले आइये|

(
ये BERBERIS VULGARIS दवा भी पथरचट नाम के पोधे से बनी है बस फर्क इतना है ये dilutions form मे हैं पथरचट पोधे का botanical name BERBERIS VULGARIS ही है )

अब इस दवा की 10-15 बूंदों को एक चौथाई (1/ 4) कप गुण गुने पानी मे मिलाकर दिन मे चार बार (सुबह,दोपहर,शाम और रात) लेना है | चार बार अधिक से अधिक और कमसे कम तीन बार|इसको लगातार एक से डेढ़ महीने तक लेना है कभी कभी दो महीने भी लग जाते है |

इससे जीतने भी stone है ,कही भी हो गोलब्लेडर gall bladder )मे हो या फिर किडनी मे हो,या युनिद्रा के आसपास हो,या फिर मुत्रपिंड मे हो| वो सभी स्टोन को पिगलाकर ये निकाल देता हे|

99%
केस मे डेढ़ से दो महीने मे ही सब टूट कर निकाल देता हे कभी कभी हो सकता हे तीन महीने भी हो सकता हे लेना पड़े|तो आप दो महिने बाद सोनोग्राफी करवा लीजिए आपको पता चल जायेगा कितना टूट गया है कितना रह गया है | अगर रह गया हहै तो थोड़े दिन और ले लीजिए|यह दवा का साइड इफेक्ट नहीं है |

____________________
ये तो हुआ जब stone टूट के निकल गया अब दोबारा भविष्य मे यह ना बने उसके लिए क्या??? क्योंकि कई लोगो को बार बार पथरी होती है |एक बार stone टूट के निकल गया अब कभी दोबारा नहीं आना चाहिए इसके लिए क्या ???

इसके लिए एक और होमियोपेथी मे दवा है CHINA 1000|
प्रवाही स्वरुप की इस दवा के एक ही दिन सुबह-दोपहर-शाम मे दो-दो बूंद सीधे जीभ पर डाल दीजिए|सिर्फ एक ही दिन मे तीन बार ले लीजिए फिर भविष्य मे कभी भी स्टोन नहीं बनेगा|

आपने पूरी post पढ़ी बहुत बहुत धन्यवाद !! 

Friday, April 20, 2012

Type In Hindi

Google AJAX Search API Sample
Loading...

Wednesday, March 23, 2011

How to meditate, A journey to inside the body

See above video it will explain everything which we need to meditate. This explain in scientific way to meditate and its effects. How to control berth, how to see by 3rd eye, how to activate 6th sense for, what is micro body, what is life. For answer of all question see this video, but this is in Hindi only. This video does not have any religious lecture. This is simple explanation in 3d movie, showing kundlini and chakers etc. This cheker in Hindi, means field of electromagnet area around and in our body which we can use for further improvement and control extra of our body.

problem viewing this video watch on youtube

Monday, March 14, 2011

Gopal Kavach श्री गोपाल अक्षय कवचम


  श्री गोपाल अक्षय कवचम 
1.    गोविन्द पावों की रक्षा करें 
2.    जगत  प्रभु जांघ की रक्षा करें  
3.    दोनों उरवो की रक्षा केशव करें
4.    कमर की रक्षा दामोदर करें
5.    चेहरे की श्रीहरी रक्षा करें
6.    नाड़ी स्थान की अच्युत  रक्षा करें
7.    बाईं तरफ की विष्णु रक्षा करें तथा  दक्षिन तरफ की सुदर्शन रक्षा करें 
8.    कंधो की रक्षा वासुदेव करें  
9.    हदय की रक्षा जनार्दन करें 
10. कण्ठ की रक्षा वाराह करें 
11. मुखमंडल  की रक्षा कृष्ण करें  
12. कानो की रक्षा माधव करें 
13. नासिका की रक्षा हृषिकेश करें 
14. नेत्रों की रक्षा नारायण करें  
15. ललाट की रक्षा गरुड़ध्वज करें  
16. कपोलों की रक्षा केशव करें 
17. शिर की रक्षा चक्रपाणी करें 
18. प्रभात में माधव रक्षा करें 
19. मध्यान में मधुसुदन रक्षा करें 
20. दिन के अंत में देतेयों का नाश करने वाले रक्षा करें 
21. रात्रि में चंद्रमा रक्षा करें 
22. पूर्वे में पुण्डरीकक्ष रक्षा करें 
23. वायव्य में जनार्दन रक्षा करें 

जय गोपाल जी की